शनिवार, 31 दिसंबर 2016

नव-वर्ष पर -


*
नया वर्ष मन में उछाह भरे ,
पथ के अवरोध हरे .
सन्मति से भरे लोक .जागे कल्याण बोध 
शान्तिमय हुलास की उजास चहुँ ओर झरे !
*

6 टिप्‍पणियां:

  1. सुंदर प्रार्थना..आमीन !

    उत्तर देंहटाएं
  2. नये साल के शुभ अवसर पर आपको और सभी पाठको को नए साल की कोटि-कोटि शुभकामनायें और बधाईयां। Nice Post ..... Thank you so much!! :) :)

    उत्तर देंहटाएं
  3. नव बर्ष की शुभकामनाएं
    http://savanxxx.blogspot.in

    उत्तर देंहटाएं
  4. आमीन ... आपको भी नव वर्ष की ढेरों मंगल कामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  5. सुन्दर
    नववर्ष एवं मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं